दरिंदो को फ़ास्ट-ट्रैक कोर्ट से फाँसी की सज़ा मिलनी चाहिए – मोहित मदनलाल ग्रोवर

दरिंदो को फ़ास्ट-ट्रैक कोर्ट से फाँसी की सज़ा मिलनी चाहिए - मोहित मदनलाल ग्रोवरगुरुग्राम : “हाथरस UP से 19 वर्षीय दलित युवती के साथ गैंगरेप और उसके बाद बेरहमी से उसकी जीभ काटने, रीढ़ की हड्डी तोड़ने और आज सफदरजंग अस्पताल में उसकी मृत्यु की खबर सुनकर बहुत ही दुःख हुआ, यह घटना इंसानियत पर एक कलंक है, उन दरिंदो को फ़ास्ट-ट्रैक कोर्ट से फाँसी की सज़ा मिलनी चाहिए”

उक्त विचार आज गुरुग्राम के युवा नेता व समाजसेवी मोहित मदनलाल ग्रोवर ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट के माध्यम से रखे, उन्होंने कहा कि हमारे कानून में इतना सख्त प्रावधान होना चाहिए कि सजा के बारे में केवल सोचकर ही बलात्कारियों को डर लगे। मोहित ग्रोवर ने कहा कि किसी भी जाति या धर्म की बहन बेटी के साथ ऐसा होना हमारे समाज को कलंकित करता है, सरकार तो पीड़िता को तमाम प्रकार के मुआवजा दे देती है लेकिन किसी की जान और उसके स्वाभिमान की कीमत नहीं लगाई जा सकती।

हैवानियत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि रेप के 9 दिन तक तो पीड़िता को होश ही नहीं आया जब होश आया तो पीड़िता ने अपने साथ हुए दुष्कर्म का खुलासा किया।

मोहित ग्रोवर ने कहा कि इंसानियत को शर्मशार करने वाले ऐसे दरिंदों को तो उनके गुनाह की सजा मिलती है लेकिन जिसके साथ दुष्कर्म हुआ या उसे मार दिया गया अथवा मरने की हालत में छोड़ दिया गया तो उसे किस बात की सजा मिलती है?
उन्होंने कहा कि मनीषा बहन के कातिलों को जल्द से जल्द और सख्त से सख्त सजा मिले तभी घटिया मानसिकता वाले ऐसे लोगों को सबक सिखाया जा सकता है।

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

Open chat
1
Hi, How Can I Help You.?