गुरु नानक देव जी के पदचिन्हों पर चलकर करें समाज हित के कार्य – मोहित मदनलाल ग्रोवर

गुरुग्राम। युवा समाजसेवी मोहित मदनलाल ग्रोवर ने न्यू कालोनी क्षेत्र की नवगठित आरडब्ल्यूए साईं लेन वेलफेयर सोसायटी का रिबन काटकर शुभारंभ किया। इस अवसर पर क्षेत्र के गणमान्य लोग व सोसायटी के पदाधिकारी भी मौजूद रहे। समाजसेवी मोहित ग्रोवर ने सोसायटी के सदस्यों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि आरडब्ल्यूए का गठन क्षेत्र की देखभाल व लोगों के सहयोग के लिए किया जाता है। आप सभी एकजुट होकर कार्य करें और क्षेत्र की समस्याओं का निराकरण कराएं।

उन्होंने आश्वस्त किया कि वे क्षेत्रवासियों के साथ हैं और उनका हरसंभव सहयोग किया जाएगा। क्षेत्रवासियों ने मोहित ग्रोवर का जबरदस्त स्वागत किया। भविष्य में सेक्टर में अच्छे कार्यो के लिए नई टीम को शुभकामनाएं भी दी हैं। वहीं युवा समाजसेवी मोहित ग्रोवर ने पूर्वांचल छठ पूजा एकता समिति के आग्रह पर सैक्टर 5 स्थित चौक के निकट बने छठ पूजा घाट का निरीक्षण किया। इस अवसर पर समिति के सदस्यों ने समस्याओं से अवगत कराया। श्री ग्रोवर ने कहा कि गुरुग्राम के विकास में पूर्वांचल मूल के लोगों का बड़ा योगदान रहा है। यहां पर लाखों की संख्या में पूर्वांचली स्थायी और अस्थायी रुप से निवास करते हैं। उन्होंने अपनी कड़ी मेहनत के बल पर आज गुरुग्राम को बुलंदियों पर पहुंचाया है। पूर्वांचल की संस्कृति व सभ्यता की झलक के साथ-साथ लोगों के मध्य प्रेम भी दिखाई देता है। यहां पर रहने वाले पूर्वांचल समाज के लोग सामंजस्य स्थापित कर प्रदेश व देश के विकास को एक नया आयाम देने में पूरा सहयोग दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि वे पूर्वांचल समाज के लोगों के साथ हैं और हरसंभव सहयोग दिया जाएगा।

कार्यक्रमों में आरडब्ल्यूए के प्रधान अजय मक्कर, उप प्रधान अनुराग तनेजा, महासचिव राजेश विज, कोषाध्यक्ष प्रदीप, हरीश,  कुणाल खट्टर, प्रशांत भारद्वाज, पूर्वांचल छठ पूजा एकता समिति के राधेश्याम साहू, पुरुषोत्तम झा, संजीव साहू सहित अन्य सदस्य मौजूद रहे। मोहित ग्रोवर ने गुरु नानक प्रकाशोत्सव पर शहरवासियों को दी शुभकामनाएं समाजसेवी मोहित मदनलाल ग्रोवर ने कहा कि गुरु नानक देव सिक्खों के प्रथम गुरु व सिक्ख धर्म के संस्थापक थे । वे एक महापुरुष व महान धर्म प्रर्वतक थे जिन्होंने विश्व से सांसारिक अज्ञानता को दूर कर आध्यात्मिक शक्ति को आत्मसात् करने हेतु प्रेरित किया था। वे एक महान क्रांतिकारी, समाज सुधारक और राष्ट्रवादी गुरु थे। उन्हें समाज को बेहतर रास्ते पर चलने का संदेश दिया। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि हमें उनके दिखाए मार्ग पर चलकर समाज, देशहित के कार्य करने चाहिए। जरुरतमंद लोगों की सेवा में हर समय तत्पर रहना चाहिए।

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

Open chat
1
Hi, How Can I Help You.?