जहां भी सत्य, उदारता, स्वछता और निर्मलता है वहाँ निश्चित रूप से “शिव” है – मोहित मदनलाल ग्रोवर

जहां भी सत्य, उदारता, स्वछता और निर्मलता है वहाँ निश्चित रूप से “शिव” है - मोहित मदनलाल ग्रोवर

जहां भी सत्य, उदारता, स्वछता और निर्मलता है वहाँ निश्चित रूप से “शिव” है - मोहित मदनलाल ग्रोवर“जहां भी सत्य, उदारता, स्वछता और निर्मलता है वहाँ निश्चित रूप से “शिव” है क्योंकि भगवान शिव विश्वरूप है जहां से सब कुछ आरंभ होता है जहां सबका पोषण होता है और आज का यह खास पर्व बाबा भोले नाथ के ध्यान में डूबने और अनंत उत्सव मनाने का दिन है ”

उक्त विचार गुरुग्राम के प्रसिद्ध युवा समाज सेवी श्री मोहित मदनलाल ग्रोवर ने महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर धानक समाज शिव बारात महोत्सव सोसाइटी, गुडगांव के तत्वाधान में आयोजित छठी शिव शोभायात्रा “शिव बारात महोत्सव” में रखे! इस अवसर पर मनमोहक सुंदर झांकियों का आयोजन भी किया गया जो कि शिव मंदिर धानक बस्ती जैकबपुरा से चलकर गुप्ता कॉलेज, शिवमूर्ति कबीर भवन चौक, सोहना चौक, सदर बाजार, न्यू रेलवे रोड, भीम नगर चौक, न्यू कॉलोनी मोड प्रेम मंदिर से होते हुये वापिस शिवमंदिर शिवालय, जैकबपुरा में पहुंची, उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुये मोहित ग्रोवर ने कहा कि यह भगवान शिव की पूजा का सबसे बड़ा पर्व या यूं कहें कि शिव और शक्ति के मिलन का महापर्व है, जिसका भक्तजन बेसब्री से इंतजार करते हैं।, भगवान शिव सृष्टि के विनाश तथा पुन:स्थापना दोनों के मध्य एक कडी़ जोड़ने का कार्य करते हैं |

मनुष्य को भगवान के तीन रुपों में से एक रुप का सरल तरीके से उपासना करने का वरदान महाशिवरात्रि के रुप में मिला

 है, उन्होने कहा कि महाशिवरात्रि पर्व का महत्व सभी पुराणों, गरुड़ पुराण, पद्म पुराण, स्कंद पुराण, शिव पुराण तथा अग्नि पुराण में मिलता है| शास्त्र कहते हैं कि इसी दिन भगवान शिव

HomeGurgaonजहां भी सत्य, उदारता, स्वछता और निर्मलता है वहाँ निश्चित रूप से “शिव” है – मोहित मदनलाल ग्रोवर जहां भी सत्य, उदारता, स्वछता और निर्मलता है वहाँ निश्चित रूप से “शिव” है – मोहित मदनलाल ग्रोवर

मध्यरात्रि में ब्रह्मा से रूद्र के रूप में अवतरित हुए। शिवरात्रि का दिन भगवान शिव का सबसे पवित्र दिन माना जाता है। इस दिन शिवपुराण का पाठ सुनने, महामृत्युंजय मंत्र या शिव के पंचाक्षर मंत्र “ॐ नमः शिवाय” का जाप करने का बहुत महत्व है।

इस दिन की पूजा से महादेव अति प्रसन्न होते हैं और भक्त को मनोवांछित फल प्रदान करते हैं। उन्होने स्थानीय लोगों से शिव मूर्ति स्थापित शहर के सभी चौक व आस पास सफाई रखने की भी अपील की, इस अवसर पर प्रधान दीप चंद महावर, महासचिव रविंद्र कुमार, खजांची रामचंद्र सोलंकी ने मोहित ग्रोवर द्वारा जनता की भलाई में किए जा रहे कार्यों की सराहना की,

इसी तरह युवा नेता मोहित ग्रोवर, नीलकंठ चौक पर आयोजित एक अन्य कार्यक्रम में मुख्य आतिथि के रूप में शामिल हुये, जहां विशाल भंडारे का आयोजन किया गया |

जिसमें संजीव वर्मा, गौरव कालरा, विनोद गाबा, सुमन, कुसुम, व पायल ने श्री ग्रोवर का स्वागत किया| हर हर महादेव के नारों के बीच शिव पूजा कार्यक्रम का समापन हुआ| मोहित ग्रोवर ने सभी आयोजकों आभार व्यक्त किया|

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

Open chat
1
Hi, How Can I Help You.?