याद रहेंगे मसाला मैन ऑफ इंडिया – मोहित मदनलाल ग्रोवर

याद रहेंगे मसाला मैन ऑफ इंडिया - मोहित मदनलाल ग्रोवरगुरुग्राम। एमडीएच समूह के मालिक व प्रसिद्ध समाजसेवी महाशय धर्मपाल गुलाटी के निधन पर गुरुग्राम के प्रमुख युवा समाजसेवी मोहित मदनलाल ग्रोवर ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि महाशय धर्मपाल जी का बहुत ही मृदुभाषी, मिलनसार व प्रेरणादायक व्यक्तित्व था। उन्होंने अपना जीवन समाज के लिए समर्पित कर दिया। वह एक न केवल सुप्रसिद्ध उद्यमी थे, बल्कि महान समासजेवी भी थे।

हर वर्ग के प्रति उनका स्नेह और लगाव था। देश को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ले जाने में योगदान हमेशा दुनियाभर में लोगों को प्रेरित करता रहेगा। उन्होंने अपना जीवन मानवता की सेवा में लगाया। हमेशा ही वे जरुरतमंद लोगों की सेवा में जुटे रहे। उनके प्रेरणादायी जीवन से बहुत कुछ सीखने को मिला है। गुरुग्रामवासियों से उनका विशेष लगाव था।

गुरुग्रामवासियों को उनके निधन से गहरा आघात पहुंचा है। महाशय जी जब भी गुरुग्राम आते थे तो उनसे मिलने का अवसर मिलता था। उनके प्रति उनका बड़ा स्नेह था। श्री ग्रोवर ने कहा कि महाशय धर्मपाल का जन्म 27 मार्च, 1923 को सियालकोट (पाकिस्तान) में हुआ था। उनका जीवन बहुत संघर्षमयी रहा। उन्होंने पांचवीं तक की पढ़ाई के बाद स्कूल छोड़ दिया और पिता की मदद से व्यापार शुरू किया। उन्होंने 15 साल की उम्र तक तांगा चलाने से लेकर साबुन बेचने तक लगभग 50 तरह के काम किए। देश के विभाजन के बाद वे दिल्ली आ गए और नये सिरे से अपनी जिन्दगी शुरू की।

उन्होंने लंबे संघर्ष के बाद मसाला कंपनी एमडीएच को खड़ा किया। उन्होंने कहा कि उद्योग जगत और समाज सेवा में उनके योगदान को सदैव याद किया जाएगा। हमें उनके जीवन से प्रेरणा लेकर समाजसेवा के कार्य करने चाहिए। मैं उनके परिजनों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दें।

उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

Open chat
1
Hi, How Can I Help You.?